Bhole sang bhya rachayegi bhajan lyrics (shiv bhajan hindi lyrics )

Shiv bhajan lyrics in hindi 



LYRICS 

मेरी मान  कही सुन पारवती फिर  
रोवेगी पछतावेगी भोले संग भ्याह रचाएगी 

भोला पर्वत को वासी है 
तिरशूल बसा दायी काशी है 
वहा पड़े जोर की ठण्ड 
लली तू सुकड़ सुकड़ मर जावेगी 
रोवेगी पछतावेगी 
भोले संग भ्याह रचाएगी 

वो तो अस्सी बरस को भूढो है 
वाके सर पे बंध रहो जुडो है 
वाके गले बुजंग सर्प लगे 
तू देख देख दर जावेगी 
भोले संग भ्याह रचाएगी 

भांग धतूरे को भोग लगावे 
सिलबट्टा तोपे चलवा वे 
वो तो रहे नशे में तंग 
लली तू घोट घोट मर जावेगी 
भोले संग भ्याह रचाएगी 

Post a Comment

0 Comments