मना लू काली और हनुमान || dehati geet mala lyrics

मना लू काली और हनुमान


मना लू काली और हनुमान
कहा विराजे मेरी काली भवानी तो कहा विराजे हनुमान
मना लू काली और हनुमान

कलकत्ता वराजे मेरी काली भवानी
तो मेहँदी पुर विराजे हनुमान
मना लू काली और हनुमान

कहा से आयी मेरी काली भवानी तो कहा से आये हनुमान
मना लू काली और हनुमान
पूर्व से आयी मेरी काली भवानी तो पश्चिम से आये हनुमान
मना लू काली और हनुमान

कैसे कैसे आयी मेरी काली भवानी तो कैसे कैसे आये हनुमान
मना लू काली और हनुमान
गुस्से से आयी मेरी काली भवानी तो  कूदते आये हनुमान
मना लू काली और हनुमान

काहे की माला पहने मेरी काली भवानी तो काहे की हनुमान
मुंडो की माला पहने काली भवानी और फूलो की माला हनुमान
मना लू काली और हनुमान

कहे की भेंट लेवे मेरी काली भाविनी तो कहे की हनुमान
मना लू काली और हनुमान
बकरे की  भेंट लेवे मेरी काली भावनि,नारियल की भेंट हनुमान

क्या कुछ खावे मेरी काली भवानी तो क्या कुछ खावे हनुमान
मना लू काली और हनुमान
दुस्टो का  खून पीवे मेरी काली भवानी, तो लड्डू का भोग हनुमान
मना लू काली और हनुमान

क्या कुछ पहने मेरी काली भवानी तो क्या कुछ पहने हनुमान
मना लू काली और हनुमान 
काला काला चोला पहने मेरी काली भवानी तो लाल लंगोट हनुमान
मना लू काली और हनुमान

क्या कुछ देवे मेरी काली भवानी तो क्या कुछ देवे हनुमान
संकट हरे मेरी काली भवानी ,तो रक्षा करे हनुमान


मना लू काली और हनुमान || dehati geet mala lyrics मना लू काली और हनुमान || dehati geet mala lyrics Reviewed by dehatigeetmala on June 18, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.