काली चला रहीं तलवार kali mata bhajan lyrics

hello viewers this is the lyrics of kalo mata bhajan

काली चला रहीं तलवार


काली चला रहीं तलवार चन्ड मुन्ड पकड़ पकड़ के मारे जब काली रणभूमि में आई वो कर रही असूरो का नाश चंड मुंड पकड़ पकड़ के मारे जब काली कलकत्ते में आई उनके चरणों में लेटे भोले नाथ चंड मुंड पकड़ पकड़ के मारे जब भोले पैरों में पड़ गए काली का हो गया गुस्सा शांत चंड मुंड पकड़ पकड़ के मारे जब काली किर्तन में आई भगतो काली कर दिया बेड़ा पार चंड मुंड पकड़ पकड़ के मारे




Post a Comment

1 Comments