kaya teri maati ki haveli काया तेरी माटी की हवेली hindi bhajan lyrics

this is the best bhajan of amrit bela काया तेरी माटी की हवेली hindi bhajan agar aapko ye bhajan accha lage to comment krke jaroor bataye or channel ko   subscribe  jaroor kare 

 LYRICS 


काया तेरी माटी की हवेली
बुरी भली सब झेली

जब काया का  जन्म हुआ था
बड़ी बड़ी पीड़ा झेली
काया तेरी माटी की हवेली
बुरी भली सब झेली

जब काया का बचपन आया
खेल खिलोने से खेली
काया तेरी माटी की हवेली
बुरी भली सब तेरी

जब काया की जवानी आया
बन गयी दुल्हन नवेली
काया तेरी माटी की हवेली
बुरी भली सब झेली

जब काया को भूडपा आया
जा कोने में बैठी
काया तेरी माटी की हवेली
बुरी भली सब झेली

जब काया का अंत हुआ था
जा जंगल में गेरी
काया तेरी माटी की हवेली
बुरी भली सब झेली


चुन चुन लकड़ी चिता बनायीं
जल गयी जैसे होली
काया तेरी माटी की हवेली
बुरी भली सब झेली

फूंक फांक जब घर को आयी
भउए ढूंढे धन की थैली
काया तेरी माटी की हवेली
बुरी भली सब तेरी



Post a Comment

0 Comments