रिमझिम बरसता सावन होगा rimjhim barasta sawan hoga bhole bhajan hindi lyrics

LYRICS 

  


रिमझिम बरसता सावन होगा
भोले मेरी कुटिया में आना होगा
रिमझिम बरसता सावन होगा
भोले मेरी कुटिया में आना होगा सावन के महीने भोले कावड़ लेने जाऊंगी -2 कावड़ लेके आउंगी और गंगाजल लाऊँगी श्रद्धा और प्रेम से मैं भोले को चढ़ाऊँगी तन मन धन अर्पण होगा भोले मेरी कुटिया में आना होगा रिमझिम बरसता सावन होगा भोले मेरी कुटिया में आना होगा - 2 सावन के महीने भोले बेल पत्री लाऊंगी - 2 श्रद्धा और प्रेम से मैं भोले को चढ़ाऊँगी तन मन धन सब अर्पण होगा भोले मेरी कुटिया में आना होगा रिमझिम बरसता सावन होगा भोले मेरी कुटिया में आना होगा - 2 सावन के महीने भोले आक धतूरा लाऊंगी श्रद्धा और प्रेम से मैं भोले को चढ़ाऊँगी - 2 तन मन धन सब अर्पण होगा भोले मेरी कुटिया में आना होगा रिमझिम बरसता सावन होगा भोले मेरी कुटिया में आना होगा - 2 सावन के महीने भोले भांग घोट के लाऊंगी श्रद्धा और प्रेम से मैं भोले को पिलाऊंगी तन मन धन सब अर्पण होगा भोले मेरी कुटिया में आना होगा रिमझिम बरसता सावन होगा भोले मेरी कुटिया में आना होगा - 2 सावन के महीने भोले गौरा को भी लाओगे गौरा को भी लाओगे गणेश को भी लाओगे भक्ति का सुंदर नजारा होगा भोले मेरी कुटिया में आना होगा रिमझिम बरसता सावन होगा भोले मेरी कुटिया में आना होगा - 2

रिमझिम बरसता सावन होगा rimjhim barasta sawan hoga bhole bhajan hindi lyrics रिमझिम बरसता सावन होगा  rimjhim barasta sawan hoga bhole bhajan hindi lyrics Reviewed by dehatigeetmala on August 14, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.