Mat Bole Kadwe Bol Bhawaj Tere Roj Roj Na Aave LYRICS मत बोले कड़वे बोल भावज तेरे रोज रोज न आउ

LYRICS 



मत बोले कड़वे बोल
भावज तेरे रोज रोज न आउ

सावन आउ सलूने आउ
में तो आउ भैया दौज
भावज तेरे रोज रोज न आउ
मत बोले कड़वे बोल
भावज तेरे रोज रोज न आउ

द्वारे पे बज रहे बाजे
हम हो गये परदेशी
भावज तेरे रोज रोज न आवे
मत बोले कड़वे बोल
भावज तेरे रोज रोज न आउ

मेहलन में छिक रही खिड़की 
हम तो छिप गए प्रदेश
भावज तेरे रोज रोज न आवे
मत बोले कड़वे बोल
भावज तेरे रोज रोज न आउ

बागान में गैया रम्भावे
हम तो रोवे दिन और रात
भावज तेरे रोज रोज न आवे
मत बोले कड़वे बोल
भावज तेरे रोज रोज न आउ
Mat Bole Kadwe Bol Bhawaj Tere Roj Roj Na Aave LYRICS मत बोले कड़वे बोल भावज तेरे रोज रोज न आउ Mat Bole Kadwe Bol Bhawaj Tere Roj Roj Na Aave LYRICS मत बोले कड़वे बोल   भावज तेरे रोज रोज न आउ Reviewed by dehatigeetmala on September 18, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.