Mohe Ek Raat Ko Shyam Udhari Dede Bansuriya Lyrics मोहे एक रात को श्याम LYRICS

LYRICS


मोहे एक रात को श्याम
हो श्याम  उधारी दे दे बाँसुरिया
उधारी दे दे बाँसुरिया
गिरधरी दे दे बाँसुरिया
बनवारी दे दे बाँसुरिया

मैं शाम सुंदर बन जाऊँगी
तेरी मुरली अधर सजाऊँगी
तू राधे बनियो श्याम
हो श्याम  उधारी दे दे बाँसुरिया

मैं मोर मुकुट सिर पर धारु
पट पीताम्बर गल में डालूँ
मेरा गिरधर हो जाए नाम
हो नाम उधारी दे दे बाँसुरिया

मैं मधुबन रास रचाऊँगी
संग सखियाँ साथ नचाऊँगी
मेरे संग में नाचे श्याम 
हो श्याम  उधारी दे दे बाँसुरिया 

Post a Comment

0 Comments