Shankar mera pyara SHIV BHAJAN LYRICS शंकर मेरा प्यारा- Shankar Bhajan HINDI LYRICS

Shankar mera pyara SHIV BHAJAN LYRICS शंकर मेरा प्यारा- Shankar Bhajan HINDI LYRICS
BY ANURADHA PAUDWAL


SHIV BHAJAN LYRICS 

शंकर मेरा प्यारा,रा शंकर मे प्यारा ।
माँ री माँ मुझे मूरत ला दे, शिव शंकर की मूरत ला दे,
मूरत ऐसी जिस के सर से निकले गंगा धारा ॥

माँ री माँ वो डमरू वाला, तन पे पहने मृग की छाला ||
रात मेरे सपनो में आया, आ के मुझ को गले लगाया |
गले लगा कर मुझ से बोला, मैं हूँ तेरा रखवाला||

शंकर मेरा प्यारा, शंकर मेरा प्यारा
माँ री माँ मुझे मूरत ला दे, शिव शंकर की मूरत ला दे,
मूरत ऐसी जिस के सर से निकले गंगा धारा

माँ री माँ वो मेरा स्वामी, मैं उस के पथ की अनुगामी ||
वो मेरा है तारण हारा, उस से मेरा जग उजियारा |
है प्रभु मेरा अन्तर्यामी, सब का है वो रखवाला ||

शंकर मेरा प्यारा, शंकर मेरा प्यारा
माँ री माँ मुझे मूरत ला दे, शिव शंकर की मूरत ला दे,

मूरत ऐसी जिस के सर से निकले गंगा धारा ||

Post a Comment

0 Comments