Jab se pakda hath mera mai badi masti me hu lyrics in hindi

Jab se pakda hath mera mai badi masti me hu lyrics in hindi




LATEST BHAJAN LYRICS IN HINDI

जब से पकड़ा हाथ मेरा मैं बड़ी मस्ती में हूं मैं बड़ी मस्ती में प्यारे मैं बड़ी मस्ती में हूं बेसहारों का सहारा दिनों के तुम नाथ हो मेरे सर पर हाथ तेरा मैं बड़ी मस्ती में हूं थक गया था करके श्यामा दुनिया की में नौकरी जब से बन गया दास तेरा मैं बड़ी मस्ती में हूं
दुनिया ने धोखे दिए हैं जब भरोसा है किया कर लिया विश्वास तेरा मैं बड़ी मस्ती में हूं मतलब कि इस दुनिया में कौन किसी का होता है धोखा दे देता है वही हमें जिन पर भरोसा होता है वह कह कर चले गए इतनी मुलाकात बहुत है मैंने कहा कहां जाओगे अभी बात बहुत है मेरे आंसू थम जाएं तो शौक से चले जाना ऐसे में कहां जाओगे अभी बरसात बहुत है
सावन का महीना है तेरी याद सताती है देखा जो मेरी हालत पर तुमको भी पसीना आ जाता इतना रोता तेरी चौखट पर सावन का महीना आ जाता मैं तेरी हूं मैं तेरी हूं यह भुजा उठा कर कहती हूं ना जाने जोगी किधर गया मैं घर घर अलख जगाती हूं

Post a Comment

0 Comments