MATH PE BHEED BHAWAN PE BADRA DEVI JASS GEET LYRICS




MATH PE BHEED BHAWAN PE BADRA DEVI JASS GEET LYRICS 

मठ पे भीड़ भवन पे बदरा हो रहे मेरी माँ 
कोन दिशा बदरा भये मेरी माँ 
और कोन दिशा भये मेघ मेरी अबला मेघ मेरी अबला 
मठ पे भीड़ भवन पे बदरा हो रहे मेरी माँ 

और पूर्व दिशा बदरा भये मेरी माँ 
और परे पछैया मेघ मेरी अबला मेघ मेरी अबला 
मठ पे भीड़ भवन पे बदरा हो रहे मेरी माँ 

कोन की बीघे रंग चुनरी हो माँ 
और कोन की भीगे मलमल  पाग मेरी अबला पाघ मेरी अबला 
मठ पे भीड़ भवन पे बदरा हो रहे मेरी माँ 

देवी  की भीगे रंग चुनरी हो माँ 
और लांगुर की भीगे मलमल  पाग मेरी अबला पाग मेरी अबला  
मठ पे भीड़ भवन पे बदरा हो रहे मेरी माँ 

कहाँ सुखऊ रंग चुनरी हो माँ 
और कहा सुखाऊ मलमल पाग मेरी अबला पग मेरी अबला 
मठ पे भीड़ भवन पे बदरा हो रहे मेरी माँ 

माई भवन सुखाइयो रंग चुनरी हो माँ 
और छज्जे सुखाइयो मलमल पाग मेरी अबला पाग मेरी अबला 




Post a Comment

0 Comments