Mera bhi ghar vrindawan basa doge to kanha kya bigad jayega lyrics


 Mera bhi ghar vrindawan basa doge to kanha kya bigad jayega lyrics 


मेरा भी घर वृंदावन बसा दोगे 

तो कान्हा क्या बिगड़ जाएगा

मुझे भी अपना बना लोगे 

तो कान्हा क्या बिगड़ जाएगा


मैंने सुना था तुमने गोवर्धन उठाया

मेरा भी भार उठा लोगे 

तो कान्हा क्या बिगड़ जाएगा

मेरा भी घर वृंदावन बसा दोगे 

तो कान्हा क्या बिगड़ जाएगा


मैंने सुना था तुमने नरसी की बनाई 

मेरी भी बात बना दोगे 

तो कान्हा क्या बिगड़ जाएगा

मेरा भी घर वृंदावन बसा दोगे 

तो कान्हा क्या बिगड़ जाएगा


मैंने सुना था तुमने द्रोपति की बनाई 

मेरी भी लाज बचा लोगे 

तो कान्हा क्या बिगड़ जाएगा

मेरा भी घर वृंदावन बसा दोगे 

तो कान्हा क्या बिगड़ जाएगा


मैंने सुना था तुमने सुदामा की बनाई 

मुझे भी चरणों में बैठा लोगे 

मेरा भी घर वृंदावन बसा दोगे 

तो कान्हा क्या बिगड़ जाएगा

तो कान्हा क्या बिगड़ जाएगा

Post a Comment

0 Comments