Banna banni geet lyrics cycle ka chalana chhod banni teri patli kamar balkha jayegi LYRICS

Banna banni geet lyrics cycle ka chalana chhod banni teri patli kamar balkha jayegi "साइकिल का चलाना छोड़ बनी 

तेरी पतली कमर बलखा जाएगी: LYRICS 


cycle ka chalana chhod banni teri patli kamar balkha jayegi LYRICS 


साइकिल का चलाना छोड़ बनी 

तेरी पतली कमर बलखा जाएगी 


तू बाबा की गलियां छोड़ बनी 

तू  ताऊ की गलियां छोड़ बनी 

तेरी दादी नजरिया लगाई जाएगी 

तेरी दादी नजरिया लगाई जाएगी 

साइकिल का चलाना छोड़ बनी 

साइकिल का चलाना छोड़ बनी 

तेरी पतली कमर बलखा जाएगी 


तू पापा की गलियां छोड़ बनी

तू पापा की गलियां छोड़ बनी 

तेरी मम्मी नजरिया लगा जाएगी 

तेरी मम्मी नजरिया लगा जाएगी 

साइकिल का चलाना छोड़ बनी 

तेरी पतली कमर बलखा जाएगी 


तू भैया की गलियां छोड़ बनी 

तू जीजा की गलियां छोड़ बनी 

तेरी भाभी नजरिया लगा जाएगी 

तेरी बहना नजरिया लगा जाएगी 

साइकिल का चलाना छोड़ बनी 

तेरी पतली कमर बलखा जाएगी 


तू मौसा की गलियां छोड़ बनी 

तू फूफा की गलियां छोड़ बनी 

तेरी बुआ नजरिया लगा जाएगी 

तेरी मौसी नजरिया लगा जाएगी 

साइकिल का चलाना छोड़ बनी 

तेरी पतली कमर बलखा जाएगी 


तू अंकल की गलियां छोड़ बनी 

तू अंकल की गलियां छोड़ बन्नी 

तेरी आंटी नजरिया लगा जाएगी

तेरी पड़ोसन नजरिया लगा जाएगी 

तेरी सखियां नजरिया लगा जाएंगी 

साइकिल का चलाना छोड़ बनी 

तेरी पतली कमर बलखा जाएगी